Bihar Panchayat Election: नामांकन 2 सितंबर से, सुविधा एप से ले सकेंगे रैली व सभा की अनुमति

0
63

बिहार पंचायत चुनाव को लेकर राज्य में 02 सितंबर से नामांकन की प्रक्रिया शुरू होगी। राज्य निर्वाचन आयुक्त डॉ. दीपक प्रसाद ने बताया कि पहले चरण के चुनाव को लेकर 01 सितंबर को जिला निर्वाचन पदाधिकारी, पंचायत सह जिलाधिकारी द्वारा सूचना का प्रकाशन किया जाएगा। 02 सितंबर से नामांकन की प्रक्रिया शुरू होगी। पहले चरण में 10 जिलों के 12 प्रखंडों में मतदान होगा। इनमें कैमूर का कुदरा, रोहतास के दावथ, संझौली, गया के बेलागंज, खिजरसराय, नवादा का गोविंदपुर, औरंगाबाद का औरंगाबाद, जहानाबाद का काको, अरवल के सोनभद्र-वंशी-सूर्यपुर, मुंगेर का तारापुर, जमुई का सिकंदरा एवं बांका के धोरैया प्रखंडों में चुनाव होगा।

राज्य निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि बाढ़ प्रभावित जिलों के प्रखंडों में अंतिम चरण में मतदान होगा। आयोग का मानना है कि 15 सितंबर के बाद मानसून खत्म हो जाता है। इसके बाद भी बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में चुनाव को लेकर काफी समय रहेगा। दिसंबर में होने वाले अंतिम चरण के चुनाव तक इन क्षेत्रों में आवागमन के साधन भी उपलब्ध हो जाएंगे। पंचायत चुनाव को लेकर उम्मीदवारों को ऑनलाइन व ऑफलाइन नामांकन की सुविधा भी प्रदान की है। नामांकन को लेकर दोनों ही प्रकार से राशि भी जमा कर सकेंगे। हालांकि ऑनलाइन नामांकन के बाद भी एक बार उम्मीदवार को निर्वाची पदाधिकारी के कार्यालय में जाना पड़ेगा। 

सुविधा एप से ले सकेंगे रैली व सभा की अनुमति

राज्य निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि सुविधा एप के माध्यम से उम्मीदवार रैली या जनसभा करने को लेकर ऑनलाइन आवेदन देकर स्वीकृति प्राप्त कर सकेंगे। साथ ही, राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के माध्यम से कोई भी मतदाता अपने मतदान केंद्र की जानकारी, मतदाता सूची में नामों की जानकारी, उम्मीदवारों के बारे में जानकारी सहित अन्य प्रकार की जानकारियां ले सकेंगे।

चुनाव में पदवार अधिकतम खर्च की सीमा पूर्ववत

इस बार पंचायत आम चुनाव के दौरान पदवार अधिकतम चुनाव खर्च की सीमा पूर्ववत ही निर्धारित रखी गई है। वार्ड सदस्य व पंच के लिए 20-20 हजार रुपये, मुखिया व सरपंच के लिए 40-40 हजार रुपये, पंचायत समिति सदस्य के लिए 30 हजार रुपये और जिला परिषद सदस्य के लिए एक लाख रुपये निर्धारित है।  

हेल्पलाइन नंबर 1800-3457-243 पर कर सकेंगे संपर्क

आयोग ने पंचायत चुनाव को लेकर हेल्पलाइन नंबर 1800-3457-243 जारी किया है। हेल्पलाइन नंबर पर कोई भी मतदाता अपनी शिकायत, सुझाव या जानकारी दे सकेंगे और उसका उत्तर प्राप्त कर सकेंगे। हेल्पलाइन नंबर को लेकर आयोग में कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। 

मतगणना में माइक्रो ऑब्जर्बर होंगे तैनात

मतगणना के दौरान आयोग द्वारा माइक्रो ऑब्जर्बर की तैनाती की जाएगी। साथ ही, ऑनलाइन निगरानी भी की जाएगी। साथ ही मतदान केंद्रों पर बायोमैट्रिक्स के इस्तेमाल को लेकर तैयारी की जा रही है। वहीं, मतदान केंद्रों की लाइव वेब कास्टिंग भी करायी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.