ओमप्रकाश चौटाला की रैली में शामिल होगी जदयू, ललन सिंह ने दिल्ली में किया ऐलान

0
45

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने मंगलवार को कहा कि हरियाणा के जींद में भारतीय राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला द्वारा 25 सितंबर को अपने पिता चौधरी देवीलाल की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में पार्टी के महासचिव केसी त्यागी शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि जदयू राजग (एनडीए) में है और मजबूती के साथ है। जींद में जो समारोह है, वह देवीलाल जी की जयंती पर है। तीसरा मोर्चा या चौथा मोर्चा…इससे कोई लेना देना नहीं है। केसी त्यागी जयंती समारोह में शामिल होंगे।

nullhttps://eb728fafea433b7c32da50fc8b4a24c0.safeframe.googlesyndication.com/safeframe/1-0-38/html/container.htmlहोमन्यूज़ ब्रीफफोटोवीडियोदेशराज्यमनोरंजनकरियरक्रिकेटविदेशधर्मबिजनेसगैजेट्सऑटोलाइफस्टाइलवेब स्टोरीहिंदी न्यूज़ › बिहार › ओमप्रकाश चौटाला की रैली में शामिल होगी जदयू, ललन सिंह ने दिल्ली में किया ऐलानबिहार

ओमप्रकाश चौटाला की रैली में शामिल होगी जदयू, ललन सिंह ने दिल्ली में किया ऐलान

नई दिल्ली भाषाPublished By: Malay OjhaTue, 14 Sep 2021 05:48 PM

ओमप्रकाश चौटाला की रैली में शामिल होगी जदयू, ललन सिंह ने दिल्ली में किया ऐलान

ऐप पर पढ़ें

जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह ने मंगलवार को कहा कि हरियाणा के जींद में भारतीय राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला द्वारा 25 सितंबर को अपने पिता चौधरी देवीलाल की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में पार्टी के महासचिव केसी त्यागी शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि जदयू राजग (एनडीए) में है और मजबूती के साथ है। जींद में जो समारोह है, वह देवीलाल जी की जयंती पर है। तीसरा मोर्चा या चौथा मोर्चा…इससे कोई लेना देना नहीं है। केसी त्यागी जयंती समारोह में शामिल होंगे।null

चौटाला ने इस कार्यक्रम के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा, पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री शरद पवार और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल सहित देश के कई विरोधी दल के नेताओं को निमंत्रण भेजा है। उनकी इस कवायद को तीसरे मोर्चे के गठन की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है।

जाति आधारित जनगणना के बारे में पूछे गए एक सवाल पर ललन सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार के सर्वदलीय नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है और अब इस बारे में कोई भी फैसला प्रधानमंत्री को लेना है। 

वहीं ललन सिंह ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को बिहार के विभिन्न इलाकों में बोले जाने वाली भोजपुरी और मगही भाषा को झारखंड की भाषा मानने से इंकार करने पर आड़े हाथों लिया और कहा कि हर किसी को देश के किसी भी हिस्से में रहने का अधिकार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.