देश को फिर धमाकों से दहलाना चाहता था दाऊद? दिल्ली पुलिस का बड़ा खुलासा

0
56

दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को आतंकवाद के खिलाफ एक बड़ी सफलता हासिल की है। पुलिस ने एक मल्टी स्टेट ऑपरेशन में 6 आतंकियों को गिरफ्तार किया है, जिनमें से 2 ने पाकिस्तान से ट्रेनिंग ली है। इस बारे में जानकारी देते हुए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के स्पेशल सीपी नीरज ठाकुर ने कहा, ‘दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को आतंक के खिलाफ मुहिम में बड़ी सफलता मिली है। एक मल्टी स्टेट ऑपरेशन में हमने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है जिनमें 2 व्यक्ति ऐसे हैं जो पाकिस्तान से इसी साल जाकर ट्रेंड होकर आए हैं।’

‘यूपी एटीएस के साथ मिलकर 3 लोगों को किया गिरफ्तार’

ठाकुर ने कहा, ‘केंद्रीय एजेंसी से हमें एक इनपुट मिला था कि भारत के प्रमुख शहरों में कुछ आतंकी घटनाएं करने का षड्यंत्र रच रहे हैं जो बॉर्डर के उस पार से हैं। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक टीम का गठन किया। जांच में पता चला कि यह कई राज्यों में फैला हुआ बड़ा नेटवर्क है और आज सुबह इस ऑपरेशन को खत्म करते हुए कई राज्यों में रेड की। सबसे पहले महाराष्ट्र के रहने वाले समीर नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया, जिसे कोटा में ट्रेन से पकड़ा गया है। उसके बाद 2 व्यक्ति दिल्ली में गिरफ्तार हुए। उनसे पूछताछ के बाद हमने यूपी एटीएस के साथ मिलकर 3 लोगों को गिरफ्तार किया।’

‘एक टीम को दाऊद इब्राहिम का भाई अनीस कर रहा था संचालित’
ठाकुर ने कहा, ‘इनमें 2 लोग ऐसे हैं जो अप्रैल में हवाई जहाज के जरिए भारत से मस्कट गए थे। वहां से शिप के जरिए इन्हें पाकिस्तान ले जाया गया और ग्वादर पोर्ट के पास फॉर्महाउस में रखा गया। वहीं पर इनको 15 दिन तक हथियार चलाने, विस्फोटक बनाने की ट्रेनिंग दी गई। उस ट्रेनिंग के बाद जब ये लोग वापस आए तो अपने कामों में एक स्लीपर सेल की तरह जुट गए। जांच में पता चला है कि इन लोगों को सीमापार से संचालित किया जा रहा था। पता चला कि 2 टीमें बनाई गई थी, एक टीम को दाऊद इब्राहिम का भाई अनीस इब्राहिम संचालित कर रहा था।’

‘नवरात्र और रामलीला के दौरान ब्लास्ट करने का था प्लान’
स्पेशल सीपी ने बताया, ‘इस टीम का काम था कि जो वहां से हथियार और विस्फोटक आएंगे उनको ठीक तरह से बॉर्डर पार कराकर भारत के अलग-अलग शहरों में साजिश को अंजाम देने के लिए सुरक्षित रखना। दूसरी टीम का काम फंडिंग की व्यवस्था करना था। समीर और यूपी से पकड़ा गया लाला नाम का शख्स अंडरवर्ल्ड वाली टीम के साथ थे। जो दूसरा कंपोनेंट है, इसमें 2 आदमी पाकिस्तान में ट्रेंड हैं और इनके साथ एक और आदमी था। इनका काम भारत के अलग-अलग शहरों में ऐसी जगह ढूंढना था जहां आने वाले त्यौहारी सीजन में ब्लॉस्ट किए जा सकें। नवरात्रों और रामलीला को टारगेट किए जाने की साजिश थी। कुल 6 लोग गिरफ्तार हुए हैं और इनके पास से हथियार और विस्फोटक बरामद हुए हैं।

गिरफ्तार होने वालों में 4 आतंकी उत्तर प्रदेश के
ठाकुर ने कहा, ‘पाकिस्तान में मिली ट्रेनिंग के बारे में इन लोगों ने काफी जानकारी दी है और उसके बारे में केंद्रीय एजेंसी को भी बताया जाएगा। ओसामा और जीशान ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग ली थी, दोनों भारतीय हैं। गिरफ्तार आतंकियों में महाराष्ट्र का रहने वाला 47 वर्षीय जान मोहम्मद शेख, दिल्ली के जामिया नगर का रहने वाला 22 वर्षीय ओसामा, उत्तर प्रदेश के रायबरेली का रहने वाला 47 वर्षीय मूलचंद उर्फ लाला, उत्तर प्रदेश के प्रयागराज का रहने 28 साल का जीशान कमर, उत्तर प्रदेश के बहराइच का रहने वाला 23 वर्षीय मोहम्मद अबु बकर और उत्तर प्रदेश के लखनऊ का रहने वाला 31 वर्षीय मोहम्मद आमिर जावेद शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.