दरभंगा: घूसखोर दारोगा पर SSP ने की कार्रवाई, दारोगा रामप्रवेश राम को किया सस्पेंड

0
47

दारोगा रामप्रवेश राम द्वारा रिश्वत लिए जाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद दरभंगा एसएसपी ने बड़ी कार्रवाई की है। 10 हजार रुपये घूस लेने के मामले में आरोपी दारोगा को सस्पेंड किया गया है। इस मामले की जांच का जिम्मा एसडीपीओ को दिया गया था। लेकिन अब तक रिपोर्ट एसएसपी को नहीं मिली है। एसएसपी ने आरोपी दारोगा को निलंबित कर दिया है।

गौरतलब है कि दरभंगा जिले के घनश्यामपुर थाने का यह वीडियो बताया जा रहा है। वायरल वीडियो में दारोगा रामप्रवेश राम रिश्वत लेते हुए दिख रहा है। दारोगा यह भी कहते हुए सुनाई दे रहा है कि पैसा पहुंचा दो फिर आराम से घूमो। तब गिरफ्तार नहीं करेंगे। मैंने तो ऐसे भी कई बार आरोपी को घूमते देखा लेकिन मैंने हथकड़ी नहीं लगाई।

आपको बता दें घनश्यामपुर थाना के नवटोल गांव में शराब और मारपीट मामले में चार्जसीट समर्पित करने और आदेश लेकर केस से नाम हटा देने की बात कर रहे हैं। आरोपित को गिरफ्तार भी नहीं करेंगे लेकिन इसके लिए उन्हें दस हजार रुपए चाहिए. कुछ रुपए देने के बाद शेष राशि व्यवस्था कर देने की बात भी कही जा रही है. रिश्वत देने वाले शख्स ने कहा कि सर आरोपित दिन में तो गांव में घूमता है लेकिन रात में घर में सोता नहीं है. रात में वह नानी के घर चला जाता है. अगर आप आश्वासन देंगे तो वह अपने घर पर आराम से रह सकता है और सो सकता है।

इस पर दारोगा कहते है कि पहले रुपया पहुंचा दीजिये. इसपर सामने वाला शख्स कहता है सर वह मिल जाएगा. इतना सुनते ही दारोगा जी कहते हैं. उसे घूमते हुए कई दिन देखे हैं. कह दिया ना सोनू और राधे मंडल का नाम केस से हटा देंगे. इसके लिए आदेश दे लेंगे. अन्य दो को गिरफ्तार नहीं करेंगे.

बहरहाल इस वायरल वीडियो ने दरभंगा पुलिस की साख को बदनाम कर दिया है। आपको बता दें 5 दिन पूर्व ही दरभंगा के हायाघाट थाना अध्यक्ष को रिश्वत मांगने के आरोप में दरभंगा के एसएसपी बाबूराम ने निलंबित किया था। उसके बाद भी रिश्वत लेने वाले पुलिस पदाधिकारियों में सुधार नहीं हो रहा है। हालांकि इस मामले में भी एसएसपी ने कार्रवाई की है। घूस लेने के आरोपी दारोगा रामप्रवेश राम को एसएसपी ने सस्पेंड किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.